SIM card port kaise Karen online? सिम कार्ड पोर्ट कैसे करें ऑनलाइन – 2023

SIM card port kaise Karen online? सिम कार्ड पोर्ट कैसे करें ऑनलाइन - 2023

Online SIM port कैसे करें? नमस्कार दोस्तों कैसे हो? एक बार फिर से हमारी वेबसाइट Topbharat.in के आर्टिकल में आपका बहुत-बहुत स्वागत है। जैसा कि आप सभी जानते हैं आज का जमाना पूरी तरह से बदल चुका है और सब टेक्नोलॉजी पर आधारित है। यदि आप भी अपनी सिम कार्ड की नेटवर्क से परेशान है और अलग-अलग कंपनियों के सिम कार्ड खरीद कर इस्तेमाल कर रहे हैं। तो कभी ना कभी आपने किसी व्यक्ति के मुंह से सिम पोर्ट कराने के बारे में जरूर सुना होगा।

नेटवर्क समस्या होने की परिस्थिति में हर व्यक्ति हमें सिम कार्ड पोर्ट कराने की सलाह देता है। हमारे देश में सीमा पर नेटवर्क संबंधित शिकायत आम बात है क्योंकि अधिकतर लोग अभी भी गांवों में निवास कर रहे हैं। भले ही पहले के मुकाबले इन शिकायतों में भारी कमी आ गई है परंतु अभी भी गांव में कई ऐसी जगह है जहां पर नेटवर्क की समस्या अभी भी है।

इसीलिए आपके साथ भी ऐसा हो सकता है आप जिस स्थान पर रहते हैं वहां पर किसी एक सिम कार्ड का नेटवर्क पकड़ता हो बाकी का नहीं तो ऐसी में क्या होगा यदि आपके पास वह सिम कार्ड मौजूद नहीं है। जिसका नेटवर्क आपके घर पर आ रहा है तो इसका एक आसान सा उपाय है मोबाइल  Number Portability इसकी सहायता से आप उसी नंबर से दूसरे कंपनी की सिम का यूज कर सकते हैं।

सिम कार्ड नेटवर्क में प्रॉब्लम के अतिरिक्त एक और कारण हो सकता है जिसके चलते आपको सिम कार्ड पोर्ट कराने की आवश्यकता पड़ जाती है। और वह है महंगाई पहले के मुकाबले सभी टेलीकॉम कंपनियों ने अपने प्लान की रेट बढ़ा दी है। उसके बाद से लोग उस कंपनी में सिम पोर्ट करा रहे हैं जिसका रेट अन्य टेलीकॉम कंपनियों के मुकाबले सस्ता होता है। हमारे देश में अभी चार मुख्य टेलीकॉम ऑपरेटर कंपनी है जिओ एयरटेल Vi और BSNL जिनके प्लांस का रेट अलग-अलग है।

यदि आपको भी इन चारों में से किसी एक में अपनी सिम कार्ड को पोर्ट कराना है। तो आप घर बैठे इस काम को आसानी से कर सकते हैं आपको इसके लिए कहीं पर भी जाने की आवश्यकता नहीं है। इसीलिए आज हम आपको बताएंगे कि आप किस प्रकार घर बैठे अपनी सिम को पोर्ट करा सकते हैं।

इसके अलावा आप दुकान पर जाकर अपने नंबर को पोर्ट भी करा सकते हैं।

मोबाइल नंबर पोर्ट करने के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे जैसे सिम पोर्ट कैसे करें सिम पोर्ट जिओ सिम पोर्ट टू एयरटेल इत्यादि।

Mobile Number Portability (MNP) क्या है?

यदि आप अपनी सिम कार्ड के नेटवर्क और प्लान से असंतुष्ट हैं और आप अपना सिम कार्ड चेंज करना चाहते हैं। लेकिन मोबाइल नंबर वही रखना चाहते हैं तो इसके लिए एक आसान सी प्रोसेस होती है। जिसको मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी या एमएनपी कहते हैं एमएनपी टेलीकॉम यूजर को यह छूट देती है कि वह अपना सिम ऑपरेटर कभी भी चेंज कर सकता है।

इस प्रोसेस के दौरान आपका पहले वाला जो भी सिम कार्ड होता है उसके कंपनी को डोनर ऑपरेटर कहा जाता है। और जिस कंपनी में आप को पूर्ण कराना है उसको Recipient Operator कहते हैं जैसे कि मान लीजीए यदि आपके पास एयरटेल का सिम कार्ड मौजूद है। और आप को जिओ में पोर्ट कराना है तो एयरटेल डोनर ऑपरेटर हुआ और जियो रिसिपिएंट्स ऑपरेटर हुआ।

एमएनपी प्रक्रिया के पहले आपको कुछ शर्तों का विशेष ध्यान रखना होता है जिसके बारे में हम आगे बात करने वाले हैं

SIM पोर्ट कैसे करे?

 

आज हम आपको सिम पोर्ट करने के 2 तरीके बताने वाले हैं जिसमें से पहले तरीके में आपको दुकान पर जाकर अपना सिम का कोड कराना होता है। जबकि दूसरे वाले तरीके में हम बताने वाले हैं कि घर पर रहकर भी आप अपने मोबाइल से नंबर कोड कैसे कर सकते हैं।

पहला तरीका👇

पहले वाले तरीके के माध्यम से आपको 1900 नंबर पर एक मैसेज सेंड करना होता है। जिसको कुछ इस प्रकार से लिखना है PORT < space > Mobile Number जैसे यदि आपके पोर्ट कराने वाला मोबाइल नंबर है 725561**88 तो इस प्रकार से लिखें PORT 725561**88

उसके पास चाहता आपको कि उसी नंबर पर एक मैसेज आ जाएगा जिसमें आपको यूपीसी नंबर प्राप्त हो जाएगा। इसका मतलब यह होता है यूनिको पोर्टिंग कोड जिसकी वैधता केवल 4 दिनों की होती है। लेकिन जम्मू-कश्मीर आसाम और उत्तर पूर्वी राज्यों में 30 दिन की वैधता होती है।

फिर आपको जिस भी टेलीकॉम कंपनी में अपना नंबर पोर्ट कराना है। उसके स्टोर पर जाना होता है या फिर किसी एक स्तर पर जा सकते है जहां मोबाइल नंबर पोर्टिंग का काम किया जाता है।

उस स्टोर पर पहुंचने के बाद आपको अपना यू पी सी कोड देना होता है साथ ही साथ अपनी केवाईसी करानी होगी। इसके लिए आपको अपना आधार कार्ड साथ लेकर जाना है स्टोर में मौजूद स्टाफ एक Customer Acquisition Form (CFA) भरता है। और आपकी सारी जानकारी वेरीफाई करने के बाद आपको एक नई सिम कार्ड दे दी जाती है।

उसके बाद आपको एक मैसेज मिलेगा जिसमें बताया जाएगा कि आपकी एमएनपी की रिक्वेस्ट स्वीकार कर ली गई है। और 7 से 10 दिनों के अंदर आपका नया सिम कार्ड एक्टिवेट हो जाएगा।

नोट: अपना सिम कार्ड पोर्ट कराने के पश्चात जो आपको नई सिम कार्ड प्राप्त होगी उसका मोबाइल नंबर वही रहता है जिस नंबर को आपने मैसेज 1900 पर भेजा था। इसीलिए आप 1900 पर ही नंबर सेंड कीजिएगा जो कि आपको पूरा करवाना है यदि आप किसी मोबाइल पोर्टिंग स्टोर पर जाते हैं। जहां पर सिम को पोर्ट किया जाता है तो आपको बताना होगा कि आपको अपना नंबर में फूट कराना है।

दूसरा तरीका👇

इस वाले तरीके की बात की जाए तो यह पहले वाले तरीके से काफी अलग एवं आसान है। इसके द्वारा आप घर बैठे अपने मोबाइल अपना नंबर पोर्ट कर सकते हैं इसके लिए आपको जिस भी कंपनी में  (airtel,jio,vi) अपना नंबर पोर्ट कराना है। उसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना है और आगे की प्रोसेस को फॉलो करना है।

कोई भी सिम Jio में पोर्ट कैसे करें?

अगर आपको अपना कोई भी सिम Jio SIM में Port कराना है तो इसके लिए आपको कहीं बाहर स्टोर पर जाने की जरूरत नहीं है। आप घर बैठे ही अपना नंबर पोर्ट कर सकते हैं इसके लिए आपको Jio की वेबसाइट या माइजियो एप्लीकेशन पर जाना है मैं यहां पर वेबसाइट की सहायता से बता रहा हूं।

  1. सबसे पहले जिओ की वेबसाइट पर जाएं और गेट जिओ सिम पर क्लिक करें फिर आपको अपना पूरा नाम और मोबाइल नंबर डालना है। याद रहे वहीं नंबर डालें जो पोर्ट करना चाहते हैं फिर आपको जेनरेट ओटीपी  पर क्लिक करना है।
  2. उस नंबर आईटीपी को डालें और वैलिडेट ओटीपी पर क्लिक करें। उसके पश्चात आपको अपना पूरा एड्रेस डालना है और पिन कोड डालने के बाद कंफर्म पर क्लिक करें।
  3. उसके बाद आपका नया सिम कार्ड उसी एड्रेस पर 3 से 4 दिन में पहुंच जाएगा। 3 से 4 दिनों में जियो का कार्यपालक आपके पते पर आएगा और आपकी केवाईसी करेगा।
  4. इसके लिए आपको अपना आधार कार्ड अपने साथ रखना है इसके अतिरिक्त आपको एक यूपीसी नंबर भी बताना है। जो कि आप 1900 पर मैसेज करके मंगा सकते है मैसेज में आप को PORT < space> Mobile Number लिख कर सेंड करना है।
  5. बाकी वेरिफिकेशन करने के बाद आपको नया सिम कार्ड मिल जाएगा।

SIM card port कराने के लिए eligibility क्या है?

चलिए दोस्तों अब हम आपको कुछ ऐसी चीजें बता देते हैं कि आपको वह चीज SIM card port कराने के लिए आवश्यक है आपको उनमें eligibility होना अनिवार्य है।

  1. अगर आप किसी सिम कार्ड को पोर्ट कराना चाहते हो तो आपका वॉइस सिम कार्ड 90 दिन पुराना होना चाहिए अगर आपका सिम कार्ड 90 दिन पुराना नहीं हुआ है तो आप उसको पोर्ट नहीं करा सकते हो।
  2. अगर आपके पास प्रीपेड सिम नहीं है और आप का पोस्टपेड सिम कार्ड है तो अगर आप अपना पोस्टपेड सिम कार्ड को वोट कर आना चाहते हो तो आप के बकाया बिल चुकाया होना जरूरी है। सिम पोर्ट कराने के लिए आपके पास आपकी आईडी प्रूफ जैसे कि आधार कार्ड होना बहुत जरूरी है।
  3. अगर आप अपनी सिम कार्ड को उस स्टेट में पोर्ट कराना चाहते हो जिस स्टेट में आपका सिम कार्ड पहले से है तो आपको 48 घंटे का समय लगता है अगर आप उसे दूसरे स्टेट में पोर्ट कराना चाहते हो तो इसमें आपको ज्यादा समय लग सकता है।

निष्कर्ष(Conclusion):

तो दोस्तों आज इस पोस्ट के माध्यम से मैंने आपको जानकारी प्रदान की है। कि घर बैठे अपने सिम कार्ड को पोर्ट कैसे करें? 2023 और यहां पर मैंने आपको दो तरीके बताए हैं। जिनमें से आप अपनी सुविधा के अनुसार कोई भी तरीका अपना सकते हैं। उम्मीद करती हूं जानकारी आपके लिए बेहद उपयोगी रही होगी। तो कृपया करके इसे अपने दोस्तों के साथ साथ सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जरूर शेयर करें। यदि आपको कोई भी सवाल पूछना है तो नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं हम आपकी हेल्प जरुर करेंगे।

Leave a Comment