Internet Banking Kya Hai

इंटरनेट बैंकिंग क्या है ? इंटरनेट बैंकिंग के फायदे रिस्क और इसको इस्तेमाल कैसे करते हैं जानिए आसान तरीका।

Internet Banking Kya Hai

इंटरनेट बैंकिंग क्या है ?

नमस्कार दोस्तों आज के व्यस्ततम जिंदगी में किसी व्यक्ति के पास इतना अधिक समय नहीं है कि वह बैंक जाकर अपने किसी कार्य को लंबी लाइन में खड़े होकर कर सके इसीलिए लोगों की इसी समस्या का समाधान लेकर कि हम आज की इस पोस्ट में हाजिर हुए हैं जिसमें आपको बताया जाएगा कि इंटरनेट बैंकिंग क्या है और इंटरनेट बैंकिंग के फायदे रिस्क और इसका इस्तेमाल करने का तरीका जानना चाहते हैं तो शुरू से लेकर मेरी इस पोस्ट को लगातार पढ़ते रहना है।

तो दोस्तों आज की इस पोस्ट के माध्यम से मैं आपको बताने जा रही हूं इंटरनेट बैंकिंग क्या है? और यह आपके लिए घर बैठे बैंक से संबंधित किसी भी कार्य को पूरा करने के लिए काफी ज्यादा यूज को साबित हो सकता है आप इसके माध्यम से बैंक के कई सारे काम घर बैठे ही कर सकते हैं ताकि आप किसी भी व्यक्ति को पैसे भेज सकते हैं अपने बैंक में जमा राशि पता कर सकते हैं और कोई बैंक का दूसरा काम हो वह भी आप इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से कर सकते हो इस बैंक सर्विस का इस्तेमाल करने के लिए इंटरनेट की आवश्यकता होती है जिससे आप अपने मोबाइल फोन या कंप्यूटर में यूज कर सकते हो तो चलिए दोस्तों जान ले लेते हैं कि नेट बैंकिंग क्या है और इसके फायदे और इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं ?

इंटरनेट बैंकिंग क्या है इसका इस्तेमाल कैसे करें ?

दोस्तो इंटरनेट बैंकिंग आपको ऑनलाइन वेब बैंकिंग और मोबाइल बैंकिंग कई सारे नामों से बुलाने का मौका देती है जिन लोगों का अकाउंट बैंक में होता है उन्हें बैंक इंटरनेट बैंकिंग की सुविधा प्रदान कर रही है जिसे कोई भी व्यक्ति एक्टिवेट कर सकता है जब आपके अकाउंट में यह शुरू हो जाएगी तो आप बैंक के अधिकतर काम इसके माध्यम से कर सकते हो।

इंटरनेट बैंकिंग का यूज करने के लिए आपको बैंक की किसी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा वहां पर आप अपना अकाउंट यूजरनेम ओर पासवर्ड डाल सकते हैं और इसका इस्तेमाल कर सकते हो यदि आपके पास स्मार्ट मोबाइल फोन है तो आप इसकी मोबाइल बैंकिंग यूज़ करने के लिए आप इसको ऑफिशियल एप्लीकेशन अपने मोबाइल में डाउनलोड करके यूज़ कर सकते हो।

इंटरनेट बैंकिंग क्या है इस के कौन-कौन से फायदे हैं ?

दोस्तों फिर आप अपने अकाउंट से लॉगइन करके अपना क्रेडिट बैलेंस भी चेक कर सकते हैं उसके अतिरिक्त आप अपने पुराने लेन-देन से संबंधित सारी डिटेल से ट्रांजैक्शन हिस्ट्री भी डाउनलोड कर सकते हो तो चलिए दोस्तों आगे की जानकारी में जान लेते हैं कि इंटरनेट बैंकिंग के कुछ फायदे।

इंटरनेट बैंकिंग देने वाली बैंक।

दोस्तों आज के जमाने में अधिकतर सभी भारतीय बैंक अपने कस्टमर को इंटरनेट बैंकिंग की सुविधा प्रदान कर रही है तो यह सुविधा आप बिल्कुल फ्री में पा सकते हैं कुछ ऐसी पॉपुलर बैंक हैं जो इस सुविधा को अपने खाताधारक को प्रदान कर रही है।

State Bank of India (SBI)

HDFC Bank

Axis bank

Punjab National Bank

ICICI Bank

Oriental Bank

Canara Bank

Central Bank of India


इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल करने से फायदे

• बैंक 9:00 से 5:00 बजे के मध्य ही काम करती है तो हम इस समय के बीच में अपने बैंक के काम वही जाकर करवा सकते हैं लेकिन इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से आप उस दिन हो या रात किसी भी समय इसका यूज कर सकते हो।

• इंटरनेट बैंकिंग से हम beneficiary add कर सकते हैं और किसी भी अन्य बैंक अकाउंट में पैसे IMPS, RTGS और NEFT के माध्यम से किसी भी समय सेंड कर सकते हैं।

• आपको किसी भी बैंक में पैसे भेजने हो तो आपके पास केवल बैंक अकाउंट नंबर होना चाहिए और उसका आईएफएससी कोड फिर आप इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से भेज सकते हैं।

• यहां से आपको ऑनलाइन शॉपिंग करने का मौका मिलता है आप किसी भी स्थान की पेमेंट ऑनलाइन इंटरनेट मांगी के माध्यम से कर सकते हैं बिजली का बिल भरना हो ऑनलाइन मोबाइल रिचार्ज आदि सभी काम कर सकते हो।

• सबसे मुख्य बात आप इसके माध्यम से लोन के लिए आवेदन कर सकते हो।

इंटरनेट बैंकिंग का यूज़ करते समय बरतें सावधानिया

दोस्तों जहां पर आपको इंटरनेट से अनेकों फायदे मिलते हैं वहीं पर आपको कुछ नुकसान भी हो सकते हैं थोड़ी सी लापरवाही से आपको कई सारी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है तो दोस्तों आप अपने किसी दोस्त या रिश्तेदार को पैसे भेज रहे हो या फिर ऑनलाइन पेमेंट करनी हो तो आप नीचे बताएं कुछ नियमों का पालन कर सकते हैं यह बहुत ही ज्यादा जरूरी है तभी आप बिना किसी रिस्क के इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं।

• इंटरनेट बैंकिंग का यूज़ साइबर कैफे या बाहर किसी कंप्यूटर में ना करें इसके अतिरिक्त पब्लिक प्लेस के वाईफाई का यूज़ बिल्कुल ना करें इंटरनेट बैंकिंग के लिए तो बिल्कुल नहीं तो ऐसे में आपके अकाउंट इंफॉर्मेशन लीक होने का सबसे बड़ा खतरा रहता है।

• अपने कंप्यूटर में एक अच्छा एंटीवायरस इंस्टॉल कर ले उसके बाद ही आप को इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल करें एंटीवायरस malaware फिशिंग जैसी सिक्योरिटी खतरों से आपके कंप्यूटर को बचाता है।

• नियमित समय अंतराल में अपनी इंटरनेट बैंकिंग का पासवर्ड बदलते रहना चाहिए आपके अकाउंट की सेफ्टी के लिए अच्छा होता है इसके अतिरिक्त आप कभी भी अपना यूजर नेम और पासवर्ड किसी भी व्यक्ति के साथ शेयर ना करें।

• यदि आपके पास कोई कॉल आता है और वह आपसे अकाउंट से संबंधित ईमेल आईडी मोबाइल नंबर पूछता है तो बिल्कुल भी नहीं बताना है बैंक कभी भी आपसे फोन पर ऐसी जानकारी नहीं मांगती है।

• ऑनलाइन पेमेंट और अन्य ट्रांजैक्शन वेबसाइट पर सिक्योर सिक्योरिटी होती है जिनके यूआरएल लिंक में शुरुआती ‘http’ के जगह ‘https‘ लिखा हुआ होता है।

Read Also – travel-insurance-kaha-se-buy-kare


निष्कर्ष

तो दोस्तों हमें पूरी आशा है कि आप ऊपर दिए जानकारी के माध्यम से समझ गए होंगे इंटरनेट बैंकिंग क्या होती है और हम इसका इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं और इस्तेमाल करने के दौरान हमें कौन-कौन सी सावधानी बरतनी चाहिए सभी बेसिक जानकारी बताइए तो दोस्तों अब सवाल यह आता है कि इसे हम एक्टिवेट और इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं तो कुछ बैंक अकाउंट खोलने के साथ इंटरनेट बैंकिंग एक्टिवेट कर के देते हैं और कुछ बैंक आपको वही जाकर चालू करवाना ही होती है।

यदि आपके अकाउंट में इंटरनेट बैंकिंग एक्टिवेट नहीं है और आप उसे यूज एक्टिवेट करना चाहते हैं तो अपनी बैंक ब्रांच में जाना होगा बैंक वाले इसके लिए आपको एक फोरम देंगे जिसे भरकर आपको सम्मिट करना है।

तो दोस्तों इस प्रकार आप इंटरनेट बैंकिंग की सुविधा का लाभ उठा सकते हैं यदि आपको हमारी यह जानकारी पसंद आती है तो इसे अन्य लोगों के साथ जरूर शेयर करें।

Leave a Comment