सौलर पंप के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू जानिए आवश्यक दस्तावेज, अंतिम दिनाक और आवेदन करने की प्रक्रिया | How to Apply Kusum Yojana In Hindi

सौलर पंप के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू जानिए आवश्यक दस्तावेज, अंतिम दिनाक और आवेदन करने की प्रक्रिया | How to Apply Kusum Yojana In Hindi 

Kusum Scheme – नमस्कार प्यारे किसान भाई, अगर आप एक किसान हैं, तो आपके लिए यह खबर पढ़ना बहुत जरूरी है। वास्तव में, नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय ने कुसुम योजना के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया को आगे बढ़ाया है। अब किसान इस योजना का लाभ लेने के लिए 1 दिसंबर तक आवेदन कर सकते हैं। बता दें कि पहले इस योजना के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 5 नवंबर थी।

How to Apply Kusum Yojana In Hindi
How to Apply Kusum Yojana In Hindi 

आज भी कई किसान अपने खेतों में सिंचाई की उचित व्यवस्था के अभाव की समस्या का सामना कर रहे हैं। जैसे, केंद्र सरकार की किसान उजा सुरक्षा और उत्थान महा अभियान (कुसुम) योजना को बहुत ही महत्वाकांक्षी माना जाता है, क्योंकि इस योजना को सौर ऊर्जा के साथ सिंचाई में उपयोग किए जाने वाले सभी डीजल / इलेक्ट्रिक पंपों को चलाने के लिए डिज़ाइन किया गया है। जानकारी के लिए बता दें कि केंद्र सरकार के 2018-19 के आम बजट में तत्कालीन पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कुसुम योजना की घोषणा की थी। इस योजना के तहत किसानों को सौर पंप सब्सिडी दी जाती है। इससे डीजल की खपत को रोकने और कच्चे तेल के आयात पर अंकुश लगाने में मदद मिलेगी।

 यह योजना जाने  – 75 प्रकार के कृषि यंत्र पर मिलेंगे 10 प्रतिशत तक सब्सिडी, इस लिंक से जल्दी करे ऐसे आवेदन

कुसुम योजना क्या है ? (What is Kusum Yojana)


सौर ऊर्जा उपकरण स्थापित करने के लिए किसानों को 10% राशि का भुगतान करना पड़ता है।
बंजर भूमि पर सौर ऊर्जा के लिए पौधे लगाए जाते हैं।
केंद्र सरकार किसानों को बैंक खातों में सब्सिडी देती है।
सोलर पंप की कुल लागत पर 60% अनुदान दिया जाता है।
बैंक किसानों को 30% ऋण देता है।

कुसुम योजना के लाभ (Benefits of Kusum Yojana)


यह योजना देश भर के किसानों को दो तरह से लाभान्वित करती है। एक यह है कि उन्हें सिंचाई के लिए मुफ्त बिजली मिलती है और दूसरा यह है कि किसान अतिरिक्त बिजली पैदा कर सकते हैं और इसे ग्रिड को भेज सकते हैं। इससे किसानों की आय भी बढ़ती है। महत्वपूर्ण बात यह है कि सौर ऊर्जा उपकरण स्थापित करने के लिए किसानों को केवल 10% राशि का भुगतान करना पड़ता है। शेष राशि किसानों को केंद्र सरकार द्वारा सब्सिडी के रूप में बैंक खाते में भेजी जाती है। यही नहीं, कुसुम योजना के तहत, बैंक किसानों को ऋण के रूप में 30% राशि मिलती है, जबकि केंद्र सरकार किसानों को सब्सिडी के रूप में सौर पंप की कुल लागत का 60% देती है।

कुसुम योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया (Online application process for Kusum Yojana)


सबसे पहले कुसुम योजना की आधिकारिक वेबसाइट  https://kusum.online/पर जाना होगा.
इसके बाद होम पेज खुलकर आएगा, यहां आवेदन करने के लिए क्लिक करें और Kusum Scheme का फॉर्म सही जानकारी के साथ भरें.
फॉर्म भरते समय सही मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि। सभी जानकारी भरें और सबमिट बटन पर क्लिक करें।
जब ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाती है, तो कुसुम योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर लॉगिन करें।
अब भरे हुए फॉर्म को कुसुम सोलर स्कीम के तहत जमा करें।
इस तरह से पूरी आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।
यदि कोई किसान भाई कुसुम योजना के बारे में अधिक जानना चाहते हैं, तो वह https://mnre.gov.in/पर जा सकते हैं।

Leave a Comment