मोदी सरकार हर महीने देती है 3,000 रु क्या है ये योजना और कैसे लाभ उठाये, जाने पूरी जानकारी | Pradhanmantri Shram Yogi Mandhan Yojana In Hindi

मोदी सरकार हर महीने देती है 3,000 रु क्या है ये योजना और कैसे लाभ उठाये, जाने पूरी जानकारी | Pradhanmantri Shram Yogi Mandhan Yojana In Hindi

Pradhanmantri Shram Yogi Mandhan Yojana – नमस्कार प्यारे किसान भाई, केंद्र सरकार और राज्य सरकार आर्थिक सहायता के लिए अनेक योजनए लेकर आती रहती है। आज हम जानने वाले है की प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना क्या है (Pradhanmantri Shram Yogi Mandhan Yojana Kya Hai) और इस योजना से हमें क्या लाभ (Pradhanmantri Shram Yogi Mandhan Yojana Ka Labh) मिलने वाला। है। 
Pradhanmantri Shram Yogi Mandhan Yojana In Hindi
Pradhanmantri Shram Yogi Mandhan Yojana In Hindi
मोदी सरकार ने अपने कार्यकाल के दौरान गरीबों, मजदूरों, किसानों, असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों, महिलाओं आदि के लिए कई सरकारी योजनाएं शुरू की हैं। मोदी सरकार की इन योजनाओं से लाखों लोग लाभान्वित हो रहे हैं। आज हम जिस सरकारी योजना के बारे में बात कर रहे हैं, उसके तहत असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों को हर महीने एक निश्चित राशि मिलती है, जिसका वे अपनी जरूरतों के लिए उपयोग कर सकते हैं। मोदी सरकार की इस योजना के तहत, असंगठित क्षेत्र के लोगों को 3000 रुपये मासिक पेंशन मिलती है।

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना क्या है ?


अगर आप रिटायरमेंट के बाद अपने खर्चों की टेंशन झेल रहे हैं, तो आपको मोदी सरकार की प्रधानमंत्री श्रम योगी मान-धन योजना के बारे में पता होना चाहिए। केंद्र सरकार द्वारा वर्ष 2019 में शुरू की गई, यह योजना अनौपचारिक क्षेत्र में काम करने वाले लोगों के लिए शुरू की गई थी। इस योजना के तहत, लाभार्थियों को 60 वर्ष की आयु के बाद हर महीने 3000 रुपये मासिक पेंशन मिलती है।

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना की मुख्य विशेषताए 


पीएम श्रम योगी मन धन योजना की विशिष्टता के बारे में बात करते हुए, आपको इस योजना के तहत योगदान करने के लिए बड़ी राशि की आवश्यकता नहीं है। आप सिर्फ 110 रुपये जमा करके अपनी सेवानिवृत्ति को सुरक्षित कर सकते हैं। इस योजना के तहत, सरकार ने सहयोग राशि 110 रुपये से शुरू की है। इस योजना में, सरकार आपके बुढ़ापे के लिए जितना योगदान देती है, उतना ही योगदान देती है। यह योजना 60 वर्ष की आयु तक चलाई जानी है। जैसे ही आप रिटायर होते हैं, सरकार आपको हर महीने कम से कम 3,000 रुपये की न्यूनतम पेंशन का भुगतान करती है। दूसरी ओर, लाभार्थी की मृत्यु के बाद, सरकार द्वारा पेंशन के रूप में उसके पति को आधी राशि दी जाती है।

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का लाभ कैसे ले ?


अगर आप भी इस पेंशन योजना का लाभ अपने लिए पाना चाहते हैं तो इसके लिए कुछ शर्तें हैं। जैसे आपका काम असंगठित क्षेत्र में होना चाहिए। इस सरकारी योजना का लाभ लेने के लिए आपको पंजीकरण कराना होगा। इस योजना के तहत लाभार्थी की आयु 18 वर्ष से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए। आवेदक का वेतन 15000 रुपये या इससे कम होना चाहिए। केवल जो करदाता नहीं हैं वे सरकार की इस योजना से जुड़े हैं। यही नहीं, यदि आवेदक ने पहले से कोई पेंशन योजना ले रखी है, तो उसे इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा


यदि आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तो आपको इस योजना के पंजीकरण और उद्घाटन के लिए अपने दस्तावेज़ पहले से तैयार करने होंगे। सरकार ने इस योजना के लिए आधार कार्ड को अनिवार्य कर दिया है। बैंक खाता जंधन खाता होना चाहिए या आपका बचत खाता बैंक खाता आईएफएससी कोड होना चाहिए। आप अपने पास के किसी भी सीएससी केंद्र में जा सकते हैं और इस योजना के तहत पेंशन योजना के लिए नामांकन प्राप्त कर सकते हैं। आप चाहें तो इस योजना के बीच में चयन कर सकते हैं। आपके द्वारा जमा की गई राशि को आपके खाते में ब्याज के साथ जमा किया जाएगा।

Leave a Comment