एड्स से सुरक्षा || Aids Protection In Hindi

एड्स से सुरक्षा ||  Aids Protection In Hindi

Aids Protection In Hindi – अगर आप को लगता है कि HIV एड्स है तो आप इसका अस्पताल में टेस्ट करा सकते है अगर आप को एड्स हुआ तो HIV पॉजिटिव आएगा नहीं होगा तो HIV नेगिटिव आएगा अगर HIV(+) आता है तो क्या करे :-
HIV के शुरूआती अवस्था में (लगभग 2-3 हफ़्तो) में फ्लू के लक्षण जैसे दिखाई देते है

aids protection in hindi,aids se kaise bache,aids hindi jaankari,aids ka ilaj
Aids Protection

एड्स (AIDS):

 एड्स विश्व का सबसे खतरनाक रोग है इस रोग से व्यक्ति की रोग प्रतिरोधक शक्ति या सुरक्षा प्रणाली नष्ट हो जाती  है और रोगी को लम्भे समय तक ज्वर, थकान का अनुभन, वजन मे कमी आदी रोग उत्पन हो जाते है रोगी की प्रतिरोधकता शक्ति नष्ट होने से किसी भी औषधि का असर नही होता है विश्व के सभी देशों में कई लोग एचआईवी एड्स से पीड़ित है आधुनिक समय में एचआईवी वैश्विक स्तर पर एक बड़ी समस्या बन रही है यह बीमारी अधिकतर युवाओं को प्रभावित कर रही है एड्स से संक्रमित होने का महिलाओं को अधिक खतरा होता है 
एड्स चार शब्द से ( A.I.D.S.) मिलकर बना है जिसका निम्न अर्थ है
A – Acquired =  प्राप्त किया
I – Immuno = प्रतिरोधकता
D – Deficiency =  न्यूनता
S – Syndrome = लक्षणो का समुँह

एड्स से सुरक्षा ||  Aids Protection In Hindi


एड्स (AIDS) का इतिहास:-

aids protection in hindi,aids se kaise bache,aids hindi jaankari,aids ka ilaj,
Aids mark
विश्व भर के डॉक्टर लगातार HIV एड्स से लड़ने का इलाज ढूंड रही है लेकिन अभी तक पूर्ण रूप से इलाज नहीं खोजा गया है लेकिन कुछ दवाइयों द्वारा कुछ समय के लिए बचा जा सकता है 
एड्स चिंपाजी से मनुष्य तक -:
HIV एड्स सबसे पहले 19 वी शाताब्दी में जानवरों के अंदर पाया गया था रीसर्च के अनुसार इंसानों में यह वायरस चिंपाजी से आया है 
एड्स  का केस सर्वप्रथम 1981मे अमेरीका मे पाया गया और भारत मे पहला रोगी 1986 में तमिलनाडू मे पाया गया  वर्तमान मे यह रोग विश्वभर  में पाया जाता है

एड्स से बचाव के उपाय( Safety from AIDS):-

● जीवनसाथी के अलावा किसी अन्य व्यक्ति से शारीरिक क्रिया न करे
● समलैंगिक यौनाचार न करे
● मादक औषधि से आदतन व्यक्ति द्वारा प्रयोग की गयी सूई का प्रयोग न करे
● एड्स से पिड़ीत महिलाये गर्भधारण न करे क्योकी उनके पैदा होने वाले  बच्चे को भी यह रोग होने का खतरा होता है
● रक्त की आवशकता होने पर अनजान व्यक्ति से रक्त न ले या रक्त लेते समय HIV कि जॉच कराकर ही रक्त ले
● यौनसम्पर्क के समय निरोद का उपयोग करे

रोग संचार कि विधि:-

● यौनसंचार
● रक्त द्वारा संचार
● परिप्रसव संचार

बीमारी से बचने का तरीका ….. Read more

एड्स होने पर क्या करे :-

aids protection in hindi,aids se kaise bache,aids hindi jaankari,aids ka ilaj
Symptoms of aids
अगर आप को लगता है कि HIV एड्स है तो आप इसका अस्पताल में टेस्ट करा सकते है अगर आप को एड्स हुआ तो HIV पॉजिटिव आएगा नहीं होगा तो HIV नेगिटिव आएगा अगर HIV(+) आता है तो क्या करे :-
HIV के शुरूआती अवस्था में (लगभग 2-3 हफ़्तो) में फ्लू के लक्षण जैसे दिखाई देते है  ऐसा तब होता है जब व्यक्ति की का शरीर इंफेक्शन के खिलाफ एंटीबॉडी बनाता है  HIV वायरस मनुष्य के शरीर में उपस्थित CD4+ कोशिका 

पर हमला करता है इसके बाद ये वायरस गुणन करना शुरू कर देते है और बिना उपचार के यह वायरस रोगी के शरीर में बढ़ता जाता है और अंत में शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता रोगप्रतिरोदक क्षमता को नष्ट कर देता है तब रोगी को HIV एड्स संक्रमित बोला जा सकता है
● HIV एड्स से संक्रमित व्यक्ति में लंबे समय तक एड्स के लक्षण दिखाई नहीं देते है
● अधिकतर एड्स के मरीजों को सर्दी जुखाम या बुखार हो जाता है लेकिन इस से भी एड्स का पता नहीं लगाया जा सकता है
HIV वायरस शरीर में प्रवेश करने के बाद यह धीरे धीरे फैलता है जिसमे 7 से 10 साल तक का समय लग जाता है
● जब एचआईवी से संक्रमित हो तो आप ज्यादा से ज्यादा आराम करना चाहिए जिससे आपका शरीर संपूर्ण एनर्जी को संक्रमण से लड़ने में लगा सके
● दिन में कम से कम 8 घंटे सोना चाहिए या जब भी शरीर थका हुआ महसूस करें तो सोने की कोशिश
● एचआईवी से ग्रस्त लोग कमजोर व पतली होने लगते हैं इसलिए रोजाना व्यायाम करना चाहिए
● एचआईवी संक्रमित होने पर आपको मानसिक संतुलन को बनाए रखना चाहिए और किसी भी प्रकार की टेंशन नहीं लेनी चाहिये
● नकारात्मक सोच के कारण व्यक्ति की हालत और बिगड़ सकती है इसलिए अपना व्यवहार सकारात्मक ही रखें
● एचआईवी का निदान होने पर नियमित रूप से अपने डॉक्टर के पास आए और समय-समय पर अपना चेकअप  कराते रहे
● एचआईवी से संक्रमित होने पर शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो जाती है इसलिए रोगी को वायरस या अन्य किसी व्यक्तिगत से बचाने के लिए दिन में कई बार अपने हाथ को अच्छी तरह से साफ करें

मिशन गगनयान पूरी जानकारी …. Read more

दोस्तों आशा करता हु आप को दी गई जानकारी बहुत ही पसंद आई होगी। इसी प्रकार की नई जानकारी के लिए आप हमारी हिंदी वेबसाइट TopBharat पर जुड़े रहे। इसके बाद भी आप के कोई प्रशन है तो आप हमें निचे कमेंट कर सकते है। हमें आप की मदद करने में बहुत ख़ुशी होगी धन्यवाद।

Leave a Comment